ब्रेकिंग
आर्थिक आधार से गरीब लोगों के आरक्षण में कटौती के विरोध में आज भाटापारा अनुविभागीय अधिकारी के कार्यालय जाकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा सत्तापक्ष पर जमकर बरसे विधायक शिवरतन शर्मा, आरक्षण रुकवाने जो लोग कोर्ट गए उन्हें मुख्यमंत्री जी पुरस्कृत करते हैं,सत्र ... Selecting the right Virtual Info Room Supplier रायपुर विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा में आरक्षण बिल के दौरान ब्राह्मण नेताओं पर जमकर बरसे बलौदाबाजार विधायक प्रमोद शर्मा, उनके मुंह पर करारा तमाचा मार... Making a Cryptocurrency Beginning अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद भाटापारा नगर इकाई की हुई घोषणा मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने मंडी समिति के नए सदस्य को दिलाई शपथ, उद्बोधन में कहा भारसाधक पदाधिकारीयो की नियुक्ति के बाद से मंडी लगातार चहुमुखी विकास क... मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने धान ख़रीदी केंद्रो का निरीछन कर, धान बेचने आये किसानो से मुलाक़ात कर, धान बेचने में आने वाली समस्या की जानकारी ली, किसानों... ग्राम मर्राकोना में नवीन धान उपार्जन केंद्र के शुभारंभ अवसर पर मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने कहा भूपेश सरकार किसानों की सरकार है ग्राम मर्राक़ोंना में नवीन धान उपार्जन केंद्र को मिली हरी झंडी मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने दी जानकारी

बिलासपुर में जमीन दिलाने के नाम पर हड़प लिए 19 लाख स्र्पये

बिलासपुर।  जमीन बेचने के नाम पर 19 लाख 61 स्र्पये हड़पने का मामला सामने आया है। इस मामले की शिकायत पुलिस के आला अधिकारियों के साथ ही सरकंडा थाने में भी की गई है। सरकंडा क्षेत्र के चांटीडीह पठानपारा निवासी संतोष रजक पिता इतवारी रजक (36) ने अपनी शिकायत में बताया है कि सरकंडा निवासी पंकज सिंह से करीब एक साल पहले जान-पहचान हुई। इस दौरान पंकज सिंह से उसकी जमीन खरीद-बिक्री को लेकर बातचीत होती थी।

तभी पंकज सिंह ने बताया कि चिल्हाटी में उनका फार्म हाउस है, जिसमें से दो हजार वर्गफीट बेचना है। खसरा नंबर 1940/1 की जमीन बताकर 13 सौ स्र्पये वर्गफीट में सौदा तय किया गया। इस दौरान 11 हजार स्र्पये एडवांस भी ले लिया। शेष रकम एग्रीमेंट व रजिस्ट्री के समय देने की बात भी तय हुई। लेकिन, इसी बीच कोरोना महामारी के चलते लाकडाउन लग गया। इस दौरान तहसील कार्यालय बंद होने पर एग्रीमेंट नहीं हो सका। फिर भी पंकज सिंह लाकडाउन के दौरान ही किश्तों में कभी 50 हजार स्र्पये तो कभी एक-दो लाख स्र्पये करके कुल 19 लाख 61 हजार स्र्पये ले लिया।

इस बीच पंकज सिंह लाकडाउन खत्म होने पर एग्रीमेंट करने व जमीन की रजिस्ट्री कराने का झांसा देता रहा। लेकिन, लाकडाउन के बाद कामकाज शुरू हुआ, तब पंकज सिंह ने जमीन का सौदा होने व रजिस्ट्री कराने की बात से मुकर रहा है। इस पर संतोष सिंह ने जमीन की रजिस्ट्री नहीं कराने पर रकम वापस करने की मांग की। अब वह रकम लौटाने के बजाए संतोष को घूमा रहा है। वहीं, जान से मारने की धमकी भी देने लगा है।

परेशान होकर संतोष ने इस मामले की शिकायत सरकंडा थाने के साथ ही एसपी प्रशांत अग्रवाल व आइजी रतनलाल डांगी से की है। इस मामले में सरकंडा टीआइ जेपी गुप्ता का कहना है कि शिकायत पर जांच की जाएगी। दोनों पक्षों का बयान दर्ज करने के बाद अपराधिक प्रकरण दर्ज कर वैधानिक कार्रवाई भी की जाएगी।