ब्रेकिंग
आर्थिक आधार से गरीब लोगों के आरक्षण में कटौती के विरोध में आज भाटापारा अनुविभागीय अधिकारी के कार्यालय जाकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा सत्तापक्ष पर जमकर बरसे विधायक शिवरतन शर्मा, आरक्षण रुकवाने जो लोग कोर्ट गए उन्हें मुख्यमंत्री जी पुरस्कृत करते हैं,सत्र ... रायपुर विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा में आरक्षण बिल के दौरान ब्राह्मण नेताओं पर जमकर बरसे बलौदाबाजार विधायक प्रमोद शर्मा, उनके मुंह पर करारा तमाचा मार... अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद भाटापारा नगर इकाई की हुई घोषणा मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने मंडी समिति के नए सदस्य को दिलाई शपथ, उद्बोधन में कहा भारसाधक पदाधिकारीयो की नियुक्ति के बाद से मंडी लगातार चहुमुखी विकास क... मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने धान ख़रीदी केंद्रो का निरीछन कर, धान बेचने आये किसानो से मुलाक़ात कर, धान बेचने में आने वाली समस्या की जानकारी ली, किसानों... ग्राम मर्राकोना में नवीन धान उपार्जन केंद्र के शुभारंभ अवसर पर मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने कहा भूपेश सरकार किसानों की सरकार है ग्राम मर्राक़ोंना में नवीन धान उपार्जन केंद्र को मिली हरी झंडी मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने दी जानकारी ट्रक चोरी करने वाले 06 आरोपियो को किया गया गिरफ्तार, मंडी के पास लिंक रोड के किनारे खड़ी ट्रक को किया था चोरी, उड़ीसा से हुई बरामद रायपुर में शिवमहापुराण कथा:पंडित प्रदीप मिश्रा का प्रवचन सुनने लाखों लोग पहुंचे , अनुमान से अधिक लोगों के पहुंचने के कारण पंडित जी को कहना पड़ा घर में...

प्रवासी मजदूरों को खाना खिलाकर मरहम-पट्टी करा रही हमारी पुलिस

इंदौर। महाराष्ट्र से भूखे-प्यासे लौट रहे सैकड़ों लोग गोल चौराहा (राऊ) आते ही राहत महसूस करने लगते हैं। यहां तंबू लगाकर खड़े पुलिसवालों का अपनापन देखकर वे सारा दुख-दर्द भूल जाते हैं। सुराही में भरा ठंडा पानी, मालवा का देशी नाश्ता (सेंव-परमल), केले, बिस्कुट और खिचड़ी खाते ही भूल जाते हैं कि उनका सफर अभी बाकी है। जरूरतमंदों को स्वास्थ्य संबंधी मदद भी दे रहे हैं। घायल बालक की मरहम-पट्टी भी कराई।

नजदीकी राज्यों से पलायन की खबर मिलते ही तंबू लगाकर जवान यहां खड़े हो गए हैं। उप्र, गुजरात, महाराष्ट्र से आने-जाने वाला हर व्यक्ति गोल चौराहे से ही गुजरता है। टीआइ नरेंद्रसिंह रघुवंशी के अनुसार ज्यादातर लोग महाराष्ट्र से आते हैं। इस बार आने-जाने की समस्या तो नहीं है, लेकिन सफर लंबा होने से खाने-पीने की दिक्कत आती है। लोग दोपहिया और रिक्शा से सैकड़ों किमी की दूरी तय कर रहे हैं। बैठे-बैठे कमर दुखने लगती है। मंगलवार को पांच वर्षीय देवा को जख्मी देखा तो सिहर उठा।

पिता भूपेंद्र और मां और दादी के साथ मैहर जा रहा देवा एक दिन पहले नासिक से रवाना हुआ था। चाय-नाश्ता करने के लिए रिक्शा से उतरा तो पैर में कांच चुभ गया। मां ने पल्लू फाड़ कर लपेटा लेकिन खून बंद नहीं हो रहा था। प्रधान आरक्षक पुष्पा, आरक्षक मुलायम मिनी अस्पताल ले गए और गर्म पट्टी से सिंकाई की। दर्द निवारक गोलियां दीं और मरहम-पट्टी कर रवाना किया। टीआइ के अनुसार कैंप में बुखार, दर्द और विटामिन सी की गोलियां भी रखी गई हैं।

हाथ जोड़ कर गर्म खिचड़ी खिला रहे जवान

हाथ में डंडा लेकर दिखाई देने वाले जवान अगर हाथ जोड़े दिखें तो समझो हमने क्षिप्रा में प्रवेश कर लिया है। एसपी (पश्चिम) महेशचंद्र जैन ने यहां प्रवासी मजदूरों के लिए गरमागरम खिचड़ी की व्यवस्था की है। जैसे वाहनों की जांच होती है, वैसे थाने में पदस्थ सिपाही की बारी-बारी से ड्यूटी लगाई गई है। महाराष्ट्र पासिंग रिक्शा और बाइक देखते ही जवान हाथ जोड़कर नाश्ता करने की विनती करने लगते हैं। एसपी के अनुसार तंबू में बैठकर नाश्ता करने के बाद उनका मन करे तो हम पार्सल भी बना कर दे देते हैं।