ब्रेकिंग
विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद छत्तीसगढ़ भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे किरण सिंह देव

ममता को रास नहीं आ रहा राज्यपाल का दौरा, हिंसा प्रभावित इलाकों में ना जाने की दी नसीहत

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कूचबिहार में चुनाव बाद हुई हिंसा से प्रभावित क्षेत्रों का आज दौरा करेंगे। वह बीएसएफ के हेलीकॉप्टर से कोलकाता से रवाना होंगे और कूच बिहार में सीतल कूची और हिंसा प्रभावित अन्य क्षेत्रों का दौरा कर पीड़ितों से मिलेंगे। हालांकि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को उनका यह दौरान रास नहीं आ रहा है।

ममता ने राज्यपाल पर लगाए कई आराेप
ममता बनर्जी ने बुधवार को  राज्यपाल को पत्र लिखकर दावा किया कि संबंधित कदम क्षेत्रों के दौरे के मामले में उनके पूर्ववर्ती राज्यपालों द्वारा अपनाए गए दीर्घकालिक प्रोटोकॉल का उल्लंघन है। बनर्जी ने अपने पत्र में यह भी आरोप लगाया कि धनखड़ राज्य सरकार के अधिकारियों से सीधे बात कर रहे हैं और उन्हें आदेश दे रहे हैं, जबकि उन्होंने पूर्व में उनसे ऐसा न करने का आग्रह भी किया था।

ममता ने इस दौरे को बताया नियमों का उल्लंघन
मुख्यमंत्री ने अपने पत्र में कहा कि मुझे सोशल मीडिया से पता चला कि आप 13 मई को एकतरफा ढंग से कूचबिहार जा रहे हैं, दुखद, मुझे लगता है कि यह पिछले कई दशकों से चले आ रहे दीर्घकालिक नियमों का उल्लंघन है। उन्होंने राज्यपाल से कहा कि इसलिए, मैं उम्मीद करूंगी कि आप प्रोटोकॉल के भली-भांति स्थापित नियमों का पालन करेंगे, और क्षेत्रों के दौरों के संबंध में मनमाने फैसलों से बचेंगे।

 राज्यपाल ने खुद दी थी इस दौरे की जानकारी 
मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार के गृह विभाग की प्रोटोकॉल नियमावली का संदर्भ दिया जिनके अनुसार राज्यपाल के दौरों को सरकार से आदेश लेने के बाद राज्यपाल के सचिव द्वारा अंतिम रूप दिया जाता है। राज्यपाल ने कहा था कि वह कूचबिहार जिले में चुनाव बाद हुई हिंसा से प्रभावित क्षेत्रों का 13 मई को दौरा करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि दौरे के लिए राज्य सरकार से प्रबंध करने के लिए कहे जाने के बावजूद प्रशासन की ओर से कोई जवाब नहीं आया है।