Braz
ब्रेकिंग
ग्रीस में छुट्टियां मनाकर लौटे हार्दिक पांड्या फतेहाबाद में 2 शिकायतों के बाद सेंट्रल बैंक की जांच में खुलासा; हैड कैशियर पर FIR युवक की तलाश करने उतरे मछुआरे की मिली लाश 10 महीने बाद किसानों ने खोला मोर्चा, लखीमपुर बना ‘मिनी पंजाब’; केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी की बर्खास्तगी की मांग शहर में 10 घंटे रहेंगे शाह... सुरक्षा में तैनात रहेंगे 40 आईपीएस अफसर और 3000 जवान बिहार में मौसम विभाग का अलर्ट दवा के साथ न करें इन चीजों का सेवन सबरीमाला मंदिर का इतिहास भगवान श्रीकृष्ण की हर लीला भक्तों के मन को है लुभाती निजी क्षेत्र में देश का सबसे बड़ा 2600 बेड का है अस्पताल, 64 आपरेशन थियेटर, 81 गंभीर बीमारियों के स्पेशलिस्ट डॉक्टर करेंगे इलाज

खंडवा में पानी पर आक्रोश, निगमायुक्त की कार के सामने धरना

खंडवा। खंडवा शहर में जल संकट को लेकर लोगों का आक्रोश बढ़ता जा रहा है। पानी नहीं मिलने से परेशान लोग अब नगर निगम पर विरोध प्रदर्शन करने के लिए पहुंच रहे हैं। मंगलवार को दुबे कॉलोनी क्षेत्र की महिलाएं आक्रोशित होकर नगर निगम पहुंची। यहां पानी की मांग को लेकर महिलाओं ने जमकर हंगामा किया। महिलाएं नगर निगम आयुक्त सविता प्रधान की कार के सामने धरना देकर बैठ गई। अधिकारियों की समझाइश के बाद भी महिलाएं जब कार के सामने से नहीं उठी तो निगमायुक्त को कार से उतरकर वापस कार्यालय में बैठना पड़ा। महिलाओं की जिद थी कि क्षेत्र में निगमायुक्त जाकर निरीक्षण करें। क्षेत्रवासियों ने कहा कि दुबे कॉलोनी के कुछ क्षेत्रों में पानी पहुंच रहा है। जबकि कई गलियों में जल संकट करीब एक महीने से बना हुआ है

बार-बार शिकायतें करने के बाद भी समस्या का निराकरण नहीं हो रहा है। महिलाओं ने कहा कि हम टैंकर का पानी कब तक पिएंगे। पानी का टैक्स देते हैं तो जल वितरण नलों से होना चाहिए। करीब एक घंटे तक महिलाएं नगर निगम परिसर में प्रदर्शन करती रहीं। इस दौरान नगर निगम पेयजल वितरण प्रभारी संजय शुक्ला को नगर निगम आयुक्त ने निर्देश दिए कि वह कॉलोनी में जाकर क्षेत्रवासियों की समस्या को समझ कर दूर करने का प्रयास करें। अधिकारियों द्वारा दुबे कॉलोनी पहुंचकर क्षेत्र के लोगों को आश्वस्त किया गया कि जल्द ही कॉलोनी में प्रेशर से पानी का वितरण किया जाएगा। नगर निगम में गायत्री कालोनी से भी बड़ी संख्या में महिलाएं जल संकट की समस्या लेकर पहुंची। महिलाओं ने कहा कि उनकी कॉलोनी में ना तो नल से पानी दिया जा रहा है और ना ही टैंकर भेजे जा रहे हैं।

विदित हो कि शहर में नर्मदा जल का वितरण करीब एक महीने से प्रभावित है चारखेड़ा स्थित फिल्टर प्लांट के इंटकवेल में गाद जमा होने के कारण प्रेशर से पानी नहीं दिया जा रहा है। विश्वा कम्पनी केवल 10 एमएलडी पानी शहर में दे रही है। जबकि 30 एमएलडी पानी की आवश्यकता प्रतिदिन की है।

Braz