ब्रेकिंग
भाजपा विधायक का समर्थक निकला धर्मांतरण मामले का मुख्य आरोपी सुनील जाखड़ भाजपा में हुए शामिल इंदौर में पिछड़ा वर्ग की पांच सीटें बढ़ेंगीं प्रदेश में सामाजिक सौहार्द बनाए रखना सर्वोच्च प्राथमिकता : मुख्यमंत्री चौहान जब मंटूराम ने मुख्यमंत्री को बताया कि पत्नी संग रातभर करता हूं गोबर की चौकीदारी औद्योगिक क्षेत्र पीथमपुर की पारेषण क्षमता में वृद्धि पीएम क‍िसान और राशन कार्ड के लाभार्थ‍ियों में हड़कंप, सरकार ने भेजा र‍िकवरी नोट‍िस फीचर फोन से बिना इंटरनेट भी आप कर सकते हैं UPI पेमेंट, ये है तरीका क्या जरूरी दवाइयों की कीमत कम होने वाली है? कल NPPA की बैठक में लिया जाएगा फैसला सच बोलो तो बदनाम करेंगे बड़े नेता : हार्दिक पटेल

सीएम भूपेश ने दी मंजूरी, बिरगांव में पानी संकट का समाधान होगा 104 करोड़ में

रायपुर। बिरगांव के रहवासियों को अब पानी के लिए दर-दर भटकना नहीं पड़ेगा, क्योंकि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विकास के लिए जनता को 121 करोड़ की सौगात दी, जिसमें जल प्रदाय योजना के अंतर्गत 104 करोड़ 23 लाख रुपये की मंजूरी दी है।

इसमें नया फिल्टर प्लांट, पानी टंकी बनाने के साथ पाइप लाइन बिछाने का काम किया जाएगा, क्योंकि वर्तमान में बिरगांव नगर निगम के फिल्टर प्लांट की क्षमता कम होने से यहां गर्मी शुरू होते ही पानी की किल्लत शुरू हो जाती है। पानी के लिए महिलाओं को घंटों लाइन में लगकर अपनी बारी का इंतजार करना पड़ता है।

पानी को लेकर बिरगांव में कई बार मारपीट की घटना भी हो चुकी है। इसके चलते मारपीट की घटनाएं भी होती हैं। वर्तमान में 40 वार्डों में से महज 28 वार्डों में ही पानी की सप्लाई पाइप लाइन से हो रही है। बाकी के 12 वार्डों में पाइप लाइन बिछाने का काम नहीं हो पाया है।

इन वार्डों में टैंकर से पानी की आपूर्ति होती है, लेकिन शासन से स्वीकृति के बाद नए फिल्टर प्लांट, छह पानी टंकी और 132 किलोमीटर तक पाइप लाइन बिछाने का काम किया जाएगा। बिरगांव स्थित बुधवार बाजार में रविवार को कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम में रायपुर ग्रामीण के विधायक सत्यनारायण शर्मा ने बिरगांव की जनता की समस्या को मुख्यमंत्री के समक्ष रखा। उन्‍होंने मुख्यमंत्री से हाइवे पर बिरगांव के लिए स्वागत द्वार, गर्मी में पानी की समस्या करने, जिला सहकारी बैंक की शाखा और बिरगांव कालेज का नामकरण स्व.नंदकुमार पटेल के नाम रखने की मांग की।

इस पर मुख्यमंत्री ने स्वागत द्वार छोड़कर बाकी सभी मांगों पर मुहर लगा दी है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि हमारी सरकार लगातार गांव, गरीब, किसान तथा जरूरतमंदों के हितों की रक्षा के लिए लगातार प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि सबसे स्वच्छ प्रदेश का पुरस्कार लगातार द्वितीय वर्ष हमारे राज्य को मिला है, यह गर्व का विषय है।

उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्रों में भी गोठानों की व्यवस्था की जा रही है। आज गोधन या योजना के तहत लोग गोबर बेचकर मोटरसाइकिल और टाटा एस भी खरीद रहे हैं। एक तरफ गंदगी समाप्त हो रही है, वहीं यह आय का जरिया भी बन रहा है।

नगरी प्रशासन मंत्री डा. शिवकुमार डहरिया ने कहा कि प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में हमारी सरकार द्वारा मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं तथा क्षेत्र की जनता को किसी भी प्रकार की कोई समस्या न हो, इसका विशेष ध्यान रखा जा रहा है।

उन्होंने कहा कि पेयजल आवर्धन योजना मील का पत्थर साबित होगी। इस अवसर पर क्षेत्रीय विधायक सत्यनारायण शर्मा, छत्तीसगढ़ राज्य खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के अध्यक्ष राजेंद्र तिवारी, पूर्व जिला पंचायत सदस्य पंकज शर्मा, कलेक्टर एवं बिरगांव नगर पालिका निगम के प्रशासक डा. एस. भारती दासन, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव, आयुक्त नगर निगम बिरगांव, श्रीकांत वर्मा सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

युवक पहुंचा नौकरी मांगने

परदेशी दास नामक युवक के पिता की कोरोना काल में मौत हो गई है। वर्तमान में वह रावांभाठा की फैक्ट्री में काम करता है। वह पढ़ना चाहता है। बुधवारी बाजार में आयोजित कार्यक्रम युवक मुख्यमंत्री से मिलने के लिए पहुंचा था। युवक वीआइपी गेट तक पहुंच गया था। इसी दौरान पुलिस के जवान और जनप्रतिनिधियों ने समझा-बुझाकर किसी तरह बैठाया। मुख्यमंत्री से मिलने के लिए वह फूट-फूट कर रो रहा था। वहीं दूसरी तरफ कार्यक्रम के विरोध में भाजपा के कार्यकर्ता कार्यक्रम के बाहर पट्टा मांगते नजर आए।

मुख्यमंत्री ने की इन कामों की घोषणा

– बिरगांव में जिला सहकारी बैंक की शाखा खोलने की घोषणा

– बिरगांव कालेज का नामकरण स्व. नंदकुमार पटेल के नाम

– बिरगांव क्षेत्र में स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल

– राजीव गांधी आश्रय योजना के तहत 148 हितग्राहियों को पट्टा वितरण

– 53 लोगों को ई-रिक्शा का वितरण

इन कामों की मिली स्वीकृति

– बिरगांव आवर्धन जल प्रदाय योजना के उन्नयन कार्य के लिए 104 करोड 23 लाख

– आडवाणी आर्लिकान शासकीय 35 लाख की लागत से उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बिरगांव के मुख्य द्वार के पास सुंदरीकरण

– अधोसंरचना मद अंतर्गत समस्त वार्डों में जल प्रदाय व्यवस्था के लिए पीवीसी स्टोरेज टैंक एवं विभिन्न विकास कार्य के लिए 53 लाख 36 हजार

– एक करोड़ 48 लाख 35 हजार ई-रिक्शा

 

– नौ करोड़ 47 लाख 48 अधोसंरचना मद अंतर्गत सीसी सड़क एवं नाली निर्माण हेतु

 

– चार करोड़ 75 लाख 75 हजार की लागत से सीसी सड़क एवं नाली निर्माण