ब्रेकिंग
Discovering Academic Term Papers जन-जन को जोड़ें "महाकाल लोक" के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता केंद्र का भी किया शुभारंभ विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों 'झूठ दिआं पंडां कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप

आज गैस पीड़ित वृद्ध कल्‍याणी महिलाओं के चेहरों पर लौटेगी मुस्‍कान, मिलेगी पेंशन

भोपाल। राजधानी में लंबे समय से अपने हितों के लिए संघर्ष कर रहीं गैस पीड़ित वृद्ध कल्याणी महिलाओं के लिए आज का दिन यादगार होने वाला है। दरअसल उन्‍हें आज पेंशन राशि का भुगतान किया जाएगा। भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुनर्वास मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग आज दोपहर 12 बजे गैस राहत संचालनालय में गैस त्रासदी में दिवगंत व्यक्तियों की कल्याणी महिलाओं को पेंशन राशि वितरित करेंगे। राजधानी में इन महिलाओं की संख्या 4500 से अधिक है। इसका भुगतान अप्रैल 2021 से दिया जाएगा। मंत्री विश्वास सारंग कुछ कल्याणी महिलाओं को प्रतीकस्वरूप पेंशन राशि का चेक देंगे, बाकी कल्याणी महिलाओं को उनके खाते में बैंक से राशि ट्रांसफर की जाएगी। इस मौके पर गैस राहत अस्‍पताल के लिए तीन एंबुलेंस का लोकार्पण भी किया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि गैस पीड़ित वृद्ध कल्‍याणियों की पेंशन दिसंबर 2019 से बंद है। तब इसकी वजह पेंशन देने के लिए केंद्र द्वारा दिया गया बजट खत्म होना और पेंशन अवधि खत्‍म होना बताया गया था। केंद्र सरकार ने 2012 में कल्याणी महिलाओं को पेंशन देने के लिए 30 करोड़ रुपये दिए थे। उस उक्त राशि से पांच साल तक पेंशन दी जानी थी। उसके बाद भी 30 करोड़ रुपये के ब्याज की कुछ राशि बची थी, इसलिए 2 साल तक पेंशन की अवधि और बढ़ा दी थी। इसके बाद 20219 में पेंशन बंद हो गई। इससे गैस पीड़ित कल्‍याणी महिलाएं पाई-पाई के लिए मोहताज हो गईं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बीते साल 3 दिसंबर को गैस त्रासदी की बरसी पर गैस पीड़ित विधवा पेंशन योजना को पुन: शुरू करने की घोषणा की थी। दो माह पहले इसके लिए शिवराज कैबिनेट द्वारा एक प्रस्‍ताव भी मंजूर किया गया था। इसके तहत विभाग द्वारा वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिये सामाजिक सुरक्षा पेंशन के अतिरिक्त कल्याणी गैस पीड़ित विधवा पेंशन मद स्थापित किया गया। लेकिन अब तक गैस पीड़ित महिलाओं को पेंशन मिलना पुन: शुरू नहीं हुई थी। अब 4558 कल्याणी महिलाओं के खाते में 1000 रुपये प्रतिमाह पेंशन का भुगतान अप्रैल-2021 से किया जा रहा है।