ब्रेकिंग
गर्मी के चलते वेस्टर्न रेलवे ने 12 एसी लोकल ट्रेनें शुरू की, जानें कहां से कहां तक हैं ये ट्रेन पुलिस की सराहनीय पहल, प्रतिभावान छात्राओं के घर-घर जाकर किया सम्मानित, बच्चों ने आईएएस, डाॅक्टर व सीए बनने की जताई ईच्छा MP में तालों में कैद भगवान! MLA आकाश विजयवर्गीय बोले- जल्द खुलेगा बोलिया सरकार छत्री का शिव मंदिर एलपीजी गैस सिलेंडर पर लेना चाहते हैं सब्सिडी, फॉलो करें यह आसान प्रोसेस सूरज की तपिश से बादलाें ने दिलाई राहत बोरिंग माफियाओं की मनमानी से इंदौर में गहराया जल संकट नहीं रोक लगा पा रहा नगर निगम, आज भी रोजाना हो रहे 20-25 अवैध बोरिंग चीनी विमान जानबूझकर नीचे लाकर क्रैश कराया गया था श्रीराम सेना का दावा- कर्नाटक में 500 अवैध चर्च ग्राम देवादा में जल सभा का आयोजन एक ही परिवार के 3 लोगों के मर्डर का खुलासा, परिजन ही निकले हत्यारे, ये बनी हत्या की वजह

नेशनल मीडिया सेंटर के बाहर मिला संदिग्ध खिलौना, डॉग स्क्वायड के साथ मौके पर दिल्ली पुलिस

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली स्थित नेशनल मीडिया सेंटर के पास संदिग्ध हालात में पड़ी वस्तु को लेकर हंगामा मचा हुआ है। नेशनल मीडिया सेंटर कर्मियों की सूचना पर डॉग स्क्वायड टीम के साथ पहुंची दिल्ली पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है।  वहीं, जांच में जुटे पुलिस अधिकारी का कहना है कि संदिग्ध सामान प्लास्टिक का खिलौना था। किसी ने डस्टबीन में फेंक दिया था ।

मिली जानकारी के मुताबिक, सोमवार सुबह 10 बजे के आसपास जानकारी मिलने पर केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के जवानों ने राष्ट्रीय मीडिया केंद्र के बाहर जांच शुरू कर दी। इस दौरान जवानों ने एक पॉलिथीन में लिपटे एक खिलौने के आकार की वस्तु का अवलोकन किया। इसके बाद पूरे इलाके की जांच की गई और सबकुछ सामान्य पाया गया।

बता दें कि इससे पहले जनवरी के अंतिम सप्ताह में इज़राइली दूतावास के पास कम तीव्रता वाला एक धमाका हुआ था।  हालांकि, इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ था, लेकिन इससे दहशत जरूर फैल गई थी। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम रोड पर दूतावास के आसपास के क्षेत्र में खड़ी कई कारों की विंडस्क्रीन क्षतिग्रस्त हो गई थी। यह विस्फोट दिल्ली के विजय चौक से ज्यादा दूर नहीं हुआ था, जहां ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह के दौरान भारतीय राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई वीवीआइपी मौजूद थे।

इजरायल के राजदूत रॉन मलका ने समाचार एजेंसी एएनआइ से कहा था कि भारत और इजरायल के अधिकारियों के बीच पूर्ण सहयोग है। अभी तक, हमारी मजबूत धारणा यह है कि ये एक आतंकी हमला है जिसमें इजरायली दूतावास को निशाना बनाया गया। सौभाग्य से, किसी को भी चोट नहीं पहुंची।