ब्रेकिंग
आर्थिक आधार से गरीब लोगों के आरक्षण में कटौती के विरोध में आज भाटापारा अनुविभागीय अधिकारी के कार्यालय जाकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा सत्तापक्ष पर जमकर बरसे विधायक शिवरतन शर्मा, आरक्षण रुकवाने जो लोग कोर्ट गए उन्हें मुख्यमंत्री जी पुरस्कृत करते हैं,सत्र ... रायपुर विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा में आरक्षण बिल के दौरान ब्राह्मण नेताओं पर जमकर बरसे बलौदाबाजार विधायक प्रमोद शर्मा, उनके मुंह पर करारा तमाचा मार... अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद भाटापारा नगर इकाई की हुई घोषणा मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने मंडी समिति के नए सदस्य को दिलाई शपथ, उद्बोधन में कहा भारसाधक पदाधिकारीयो की नियुक्ति के बाद से मंडी लगातार चहुमुखी विकास क... मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने धान ख़रीदी केंद्रो का निरीछन कर, धान बेचने आये किसानो से मुलाक़ात कर, धान बेचने में आने वाली समस्या की जानकारी ली, किसानों... ग्राम मर्राकोना में नवीन धान उपार्जन केंद्र के शुभारंभ अवसर पर मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने कहा भूपेश सरकार किसानों की सरकार है ग्राम मर्राक़ोंना में नवीन धान उपार्जन केंद्र को मिली हरी झंडी मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने दी जानकारी ट्रक चोरी करने वाले 06 आरोपियो को किया गया गिरफ्तार, मंडी के पास लिंक रोड के किनारे खड़ी ट्रक को किया था चोरी, उड़ीसा से हुई बरामद रायपुर में शिवमहापुराण कथा:पंडित प्रदीप मिश्रा का प्रवचन सुनने लाखों लोग पहुंचे , अनुमान से अधिक लोगों के पहुंचने के कारण पंडित जी को कहना पड़ा घर में...

राजधानी रायपुर में कोरोना का कोहराम, 3797 मरीज, 42 की मौत

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी में कोरोना ने हाहाकार मचा दिया है। 24 घंटे में आए आंकड़ों ने पुराने सारे रिकार्ड तोड़ दिए। संक्रमितों की संख्या के अलावा मौत के डरावने आंकड़े सामने आए हैं। रायपुर में कुल 3,797 मरीज मिले हैं। वहीं एक दिन में सर्वाधिक 42 लोगों की कोरोना से मौत हुई है। वहीं 10 अस्पताल की डिस्चार्ज हुए हैं। वहीं 1015 ने होम आइसोलेशन की अवधि पूरी। रायपुर में अब भी संक्रमितों की संख्या 21,329 है। अब तक रायपुर में कुल 1155 मरीज कोरोना से जंग हार चुके हैं।

संक्रमित पिता के लिए फल लेने भटकता रहा नौ सेना का जवान

लाकडाउन के बीच कड़ाके की धूप में भारतीय नौ सेना का जवान प्रिंस पांडेय पीपीई किट पहनकर बाइक से एक चौराहे से दूसरे चौराहे पर घंटों भटकता रहा। पुलिस जवानों ने उसे रोककर पूछा तो उसने बताया कि पिता अंगद पांडेय कोरोना संक्रमित हैं। जीई रोड स्थित एक निजी अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है। उनके लिए वह फल लाने निकला था, लेकिन दुकान बंद होने से भटक रहा है।

प्रिंस ने बताया कि वह नासिक में पदस्थ है। पिता की देखरेख करने आया है। शहर के घड़ी चौक, शारदा चौक, तेलीबांधा समेत कई जगहों पर फल की तलाश में गया, लेकिन कहीं नहीं मिला। प्रिंस का कहना था कि प्रशासन को कुछ देर के लिए फलों की दुकान खोलने की अनुमति देनी चाहिए।

मेरी तरह कई लोग इसी तरह की चीजों के लिए परेशान हो रहे हैं। सरकार को मरीजों के लिए कुछ करना चाहिए। मरीजों के लिए फल काफी जरूरी हैं। आखिरकार आंबेडकर अस्पताल के पास उसे केले मिले।