ब्रेकिंग
आर्थिक आधार से गरीब लोगों के आरक्षण में कटौती के विरोध में आज भाटापारा अनुविभागीय अधिकारी के कार्यालय जाकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा सत्तापक्ष पर जमकर बरसे विधायक शिवरतन शर्मा, आरक्षण रुकवाने जो लोग कोर्ट गए उन्हें मुख्यमंत्री जी पुरस्कृत करते हैं,सत्र ... रायपुर विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा में आरक्षण बिल के दौरान ब्राह्मण नेताओं पर जमकर बरसे बलौदाबाजार विधायक प्रमोद शर्मा, उनके मुंह पर करारा तमाचा मार... अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद भाटापारा नगर इकाई की हुई घोषणा मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने मंडी समिति के नए सदस्य को दिलाई शपथ, उद्बोधन में कहा भारसाधक पदाधिकारीयो की नियुक्ति के बाद से मंडी लगातार चहुमुखी विकास क... मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने धान ख़रीदी केंद्रो का निरीछन कर, धान बेचने आये किसानो से मुलाक़ात कर, धान बेचने में आने वाली समस्या की जानकारी ली, किसानों... ग्राम मर्राकोना में नवीन धान उपार्जन केंद्र के शुभारंभ अवसर पर मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने कहा भूपेश सरकार किसानों की सरकार है ग्राम मर्राक़ोंना में नवीन धान उपार्जन केंद्र को मिली हरी झंडी मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने दी जानकारी ट्रक चोरी करने वाले 06 आरोपियो को किया गया गिरफ्तार, मंडी के पास लिंक रोड के किनारे खड़ी ट्रक को किया था चोरी, उड़ीसा से हुई बरामद रायपुर में शिवमहापुराण कथा:पंडित प्रदीप मिश्रा का प्रवचन सुनने लाखों लोग पहुंचे , अनुमान से अधिक लोगों के पहुंचने के कारण पंडित जी को कहना पड़ा घर में...

पीपीई कीट में पैक कर ले गया श्मशान घाट, कोरोना से मृत बता जलाया,पति गिरफ्तार

इंदौर। 29 वर्षीय वर्षा यादव की मौत के मामले में कनाड़िया थाना पुलिस को चौंकाने वाली जानकारी हाथ लगी है। वर्षा निजी अस्पताल में नर्स की नौकरी करती थी और उसे पति प्रवीण ने मारा था। पड़ोसियों, रिश्तेदारों को शक न हो इसलिए पीपीई कीट में लपेट श्मशान घाट ले गया और अंतिम संस्कार कर दिया। पुलिस ने प्रवीण को गिरफ्तार कर श्मशान से अस्थियां जब्त कर ली हैं।

एसआइ बलवीरसिंह रघुवंशी के मुताबिक मूलत: शुजालपुर की रहने वाली वर्षा ने प्रवीण से प्रेम विवाह किया था। उसकी मां मंजुला स्वराष्टी ने पुलिस को बताया कि प्रवीण उस पर शंका करता था और मारपीट करता रहता था। गुरुवार को वर्षा की सहेली ने बताया कि उसकी मौत हो गई और अंतिम संस्कार भी कर दिया। प्रवीण से पूछा तो कहा उसे कोरोना हो गया था और अचानक मौत हो गई। मंजुला ने थाने में शिकायत कर दी और कहा उसकी हत्या हुई है। शक के आधार पर प्रवीण को हिरासत में लिया तो कहा दोनों में कहासुनी हुई थी। गुस्से में उसने घूंसा मार दिया और मौत हो गई। पुलिस ने पड़ोसियों के बयान लिए तो कहा सुबह करीब छह बजे पता चला था। जब घर पहुंचे तो वर्षा का शव पीपीई कीट में लपेटा हुआ था। फेस शील्ड भी लगी हुई थी। वह रोने का नाटक करता रहा और बिचौली मर्दाना श्मशान घाट ले गया और पीपीई कीट सहित जला दिया। क्योंकि उसके गले में चोट के निशान थे।

दरी पर मरना बताया, घर साफ सुथरा मिला

एसआइ के मुताबिक पुलिस घर पहुंची तो हाल में बिछी दरी बताते हुए कहा वर्षा ने इसी दरी पर दम तोड़ा है जबकि उस दरी पर सल तक नहीं थे। अगर कोई व्यक्ति दरी पर दम तोड़ता तो वह तड़फता और दरी पर सल पड़ते। घर पूरा साफ-सुथरा था। प्रवीण कुछ देर पहले ही नहाया था और कपड़े सूख रहे थे। इन सब से भी उसकी पोल खुल गई।