ब्रेकिंग
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट का किया वर्चुअल भूमि पूजन कुतुब मीनार परिसर में होगी खुदाई-मूर्तियों की Iconography राष्ट्रीय स्तर के खेलों का आधारभूत ज्ञान दें विद्यार्थियों को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत जिले के 13 हजार 976 किसानों के खाते में 9.68 करोड़ रूपए किया अंतरण नगरीय निकाय आरक्षण को लेकर बड़ी खबर: भोपाल में भी नए सिरे से होगा आरक्षण, बढ़ सकती है ओबीसी वार्डों की संख्या छत्तीसगढ़ की जैव विविधता छत्तीसगढ़ का गौरव है : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मोतिहारी के सिकरहना नदी में नहाने के दौरान तीन बच्चे डूबे मुजफ्फरपुर में प्रिंटिंग प्रेस कर्मी की गोली मारकर हत्‍या  दो माह में 13 बार बढ़ी सीएनजी की कीमत हार्दिक के जाने के बाद नरेश पटेल को रिझाने में जुटी कांग्रेस

एक ही दिन घर से उठी, पिता की अर्थी और बेटी की डोली

शिवपुरी। नगर परिषद बैराड़ के वार्ड नंबर तीन में रहने वाली ग्राम पंचायत बैराड की पूर्व सरपंच आशा शर्मा के परिवार पर बेरहम कोरोना कहर बनकर टूटा। जिस घर में शादी की शहनाई बजना थी, वहां आज मातम छा गया। घर पर बेटी सुंदरी की शादी वाले दिन ही पिता अशोक शर्मा मंडी नाकेदार की मौत कोरोना से हो गई। खुशी वाले घर में मातम का माहौल छा गया

मंडी कर्मचारी अशोक शर्मा के घर में बीते राेज उनकी बेटी की शादी हाेना थी। कोरोना कर्फ्यू के कारण शासन की गाइडलाइन के अंतर्गत शादी की तैयारियां चल रही थी। इसी दाैरान अचानक घर के मुखिया अशाेक शर्मा की 20 अप्रैल को तबीयत गड़बड़ा गई। उनकाे जिला चिकित्सालय भर्ती कराया गया। जहां जांच में वह काेराेना संक्रमित पाए गए। संक्रमण से जूझ रहे अशाेक शर्मा अपनी बच्ची के शादी वाले दिन ही कोरोना से लड़ते हुए जिंदगी की जंग हार गए और शादी की खुशियां थोड़ी ही देर में मातम में बदल गई हैं। स्वजनों ने बेटी को पिता की मौत के बारे में नहीं बताया। पहले शादी बैराड़ से होना थी, लेकिन बदले हुए हालातों में लड़की पक्ष शिवपुरी आया और वर पक्ष के घर विवाह की रस्मे निभाई गईं। रस्मों के दौरान किसी ने भी दुल्हन को यह महसूस नहीं होने दिया की उसके पिता अब इस दुनिया में नहीं हैं। सभी घरवाले अपने दर्द को दिल में दबाए होठाें पर झूठी मुस्कान लिए रहे। इधर बेटी की डोली उठ रही थी और उधर पिता का कोविड गाइडलाइन के हिसाब से अंतिम संस्कार किया गया।