ब्रेकिंग
विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद छत्तीसगढ़ भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे किरण सिंह देव

राजधानी समेत कई इलाकों में गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी

रायपुर।  राजधानी समेत प्रदेश के कई इलाकों में शनिवार को गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी हुई। देर रात हवा भी तेज चली। मौसम विभाग ने छत्तीसगढ़ के लिए सतर्कता भी जारी की है। विभाग के अनुसार प्रदेश विभिन्न जिलों में बालोद, बलौदा बाजार, बेमेतरा, बिलासपुर, दुर्ग, जांजगीर – चांपा, कबीरधाम, कोरबा के कुछ स्थानों पर मध्यम हव के साथ कई स्थानों पर तेज हवा चल सकती है, जिसकी रफ्तार 30-50 किमी प्रति घंटे हो सकती है।

इसके साथ बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। देर शाम जारी सतर्कता में अगले 4-6 घंटों के दौरान छत्तीसगढ़ के जिलों में महासमुंद, मुंगेली, रायपुर और राजनांदगांव में आकाशीय बिजली गिरने की चेतावनी जारी हुई। कुछ इलाकों में इसका असर देखने को भी मिला।

आज ऐसा रहेगा मौसम

द्रोणिका व चक्रीय चक्रवात के प्रभाव से रविवार को प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में अंधड़ चलने व आकाशीय बिजली गिर सकती है। साथ ही कुछ क्षेत्रों में हल्की बारिश भी हो सकती है। बीते पांच-छह दिनों से द्रोणिका व चक्रीय चक्रवात के प्रभाव से प्रदेश के मौसम में बड़ा बदलाव हुआ है और लोगों ने भारी गर्मी से थोड़ी राहत भी महसूस की है।

यह बना है सिस्टम

मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि एक द्रोणिका पश्चिम मध्यप्रदेश से उत्तर अंदरुनी कर्नाटक तक विदर्भ और मराठवाड़ा होते हुए 0.9 किलोमीटर ऊंचाई पर स्थित है। साथ ही एक चक्रीय चक्रवाती घेरा पूर्वी मध्यप्रदेश और उससे लगे बिहार के उपर 0.9 किलोमीटर ऊंचाई पर है।

एक उपरी हवा का चक्रवाती घेरा भी गंगेटिक पश्चिम बंगाल और उससे लगे झारखंड तथा बिहार के ऊपर 1.5 किलोमीटर से 2.1 किलोमीटर ऊंचाई पर स्थित है। उन्होंने कहा कि इसके प्रभाव से ही रविवार को भी प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में बारिश होने के आसार बने हुए है।