ब्रेकिंग
जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहे 63 कैदी रिहा भारतीय वायुसेना में शामिल हुए हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर 'प्रचंड' छत्तीसगढ़: कुम्हारी हत्याकांड पर सियासी बवाल नशे का इंजेक्शन लगाकर गिरते-गिरते अपने मोटरसाइकिल तक पहुंचा युवक, सीधा खड़ा भी नहीं हो पाया पोहा बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें या पोहा मिल कैसे लगाये |Poha Making Business In Hindi कुम्हारी हत्याकांड पर सियासी बवाल युवती को पता चलने पर धमकाया, हिंदूवादी संगठन ने युवक की पिटाई की दुर्गोत्सवऔर दशहरा उत्सव मनाने ट्रैफिक पुलिस ने बनाया प्लान, शाम 5 बजे से रात दो बजे तक रूट रहेगा डायवर्ट महिलाओं ने की 18 किलोमीटर पैदल यात्रा, मां जालपा को ओढाई 72 मीटर लंबी चुनरी MP की सबसे लंबी मोहनिया सुरंग बनकर तैयार, जाने क्या है, खासियत

जबलपुर में देर रात लकड़ी के टालों में लगी भीषण आग, लाखों के नुकसान की आशंका

जबलपुर। मदनमहल स्थित महानद्दा क्षेत्र में देररात लकड़ी के टालों में भीषण आग लग गई। हादसे में लाखों रुपये के नुकसान की आशंका जताई जा रही है। सूचना पर नगर निगम की सात दमकलों सहित रक्षा विभाग की फैक्ट्ररियों के दो वाहनों को मौके पर भेजा गया। सूचना लगते ही गोरखपुर, मदनमहल और गढ़ा सहित कई थानों की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई।

दमकल विभाग मिली जानकारी के अनुसार महानद्दा क्षेत्र स्थित साहू कॉलोनी में जयेश पटेल का लकड़ी का टाल है। यहां एक साथ कई टाल और भी लगे हुए हैं। रात तकरीबन साढ़े 11 बजे टाल में अचानक आग लग गई। स्थानीय लोगों ने आग को काबू करने के साथ ही नगर निगम के दमकल विभाग को सूचना दी। आग बढ़ते देख नगर निगम की सातों दमकलों को मौके पर भेजा गया। रात डेढ़ बजे तक 70 से अधिक चक्कर दमकलों ने लगा लिए थे। बताया गया कि मौके पर एक साथ चार से ज्यादा टाल हैं। दोनों में आग लगने से क्षेत्र में हड़कंप मच गया। स्थानीय लोग भी घरों को छोड़कर बाहर आ गए। पूरे क्षेत्र में देर रात तक दहशत का माहौल रहा। तीन घरों को खाली कराया। नगर निगम के फायर अधिकारी कुशाग्र ठाकुर के अनुसार महानद्दा तालाब के ठीक पीछे एक साथ कई टाल बने हुए हैं। आग ने अचानक से भीषण रूप रख लिया। आशंका को देखते हुए नजदीक के तीन घरों को खाली कराया गया है। ठाकुर ने बताया रात तकरीबन डेढ़ बजे तक 75 फीसद आग को काबू कर लिया गया। उम्मीद है कि देर रात तक आग को पूरी तरह से काबू कर लिया जाएगा।

सैनिटाइजर और दवाओं का है गोदाम : जानकारी के अनुसार आग में लकड़ी होने के साथ ही समीप ही सैनिटाइजर और दवाओं की गोदाम है। इस कारण आग को काबू करने में ज्यादा मशक्कत करना पड़ी। फायर अधिकारी के अनुसार आग लगने की घटना में किसी के घायल होने की जानकारी नहीं है। आग लगने के कारणों का भी पता फिलहाल नहीं चला है।

आला अधिकारियों के साथ 15 थानों की पुलिस पहुंची: आग की विकरालता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि सूचना पर एक के बाद एक शहर के 15 थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई। एएसपी गोपाल खांडेल, रोहित काश्वानी सहित सहित सीएसपी और टीआइ देर रात मौके पर जमे रहे। तंग गलियां होने के कारण दमकलों को मौके पर पहुंचने में कई बार दिक्कत हुई।

मेडिकल में अलर्ट, बल तैनात: आग का काबू करने में आ रही परेशानी और भीषण रूप को देखते हुए प्रशासन के अधिकारी भी पहुंच गए। मेडिकल कॉलेज अस्पताल को अलर्ट कर दिया गया। अस्पताल के बर्न वार्ड को पूरी तरह से तैयार रहने के निर्देश दिए गए। वहीं मौके पर दस एंबुलेंस और पांच से अधिक 108 वाहन भी खड़े रखे गए थे।क्षेत्रीय विधायक समेत अन्य पहुंचे: सूचना मिलने पर क्षेत्रीय विधायक तरुण भनोत और नगर कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जगत बहादुर अन्‍नू भी मौके पर पहुंच गए।