कोरोना से बलौदाबाजर जेल के बंदी की मौत, इधर-लॉकडाउन 29 तक बढ़ा

रायपुर।  बलौदाबाजार जेल के एक बंदी की रविवार सुबह कोरोना से मौत हो गई। वह पिछले चार-पांच दिन से अंबेडकर अस्पताल में उसका इलाज चल रहा था। जानकारी के मुताबिक 32 वर्षीय कमल कुमार निराला बलौदाबाजार जेल में धारा 411, 413 के मामले में बंद था। पिछले दिनों उसकी तबियत खराब होने पर जेल अस्पताल में उसकी जांच की गई थी।

जांच में कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि के बाद उसे अंबेडकर अस्पताल में रेफर किया गया। जहां रविवार सुबह उसकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि अंबेडकर अस्पताल के कोविड वार्ड में भर्ती कोरोना संक्रमित दो अन्य कैदियों की हालत गंभीर बनी हुई है। जेल डीआईजी केके गुप्ता ने जेल बंदी की मौत की पुष्टि की है।

दूसरी ओर जिले में लॉकडाउन की समय सीमा को कलेक्टर ने 29 अप्रैल तक बढ़ाने का आदेश जारी किया है। दरअसल, जिले में लगातार कोरोना मरीजों के मद्देनजर जिले को 11 अप्रैल से 21 अप्रैल की सुबह छह बजे तक 10 दिनों का कंटेनमेंट जोन घोषित कर संपूर्ण लॉकडाउन किया था। लेकिन लॉकडाउन के बावजूद कोरोना संक्रमित मरीजों के बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने आदेश को संशोधित कर दिया है।

अब कंटेनमेंट जोन की समय सीमा 29 अप्रैल सुबह छह बजे तक कर दी गई है। वहीं, 21 अप्रैल से अति आवश्यक सेवाओं के अलावा अब सुबह छह बजे से 11 बजे तक दूध, स्ट्रीट वेंडर (ठेला व्यवसायी) गली मोहल्लों में घूम सब्जी, फल, खाद्य तेल, चावल, दाल जैसे सामान बेच सकेंगे। बैंक भी केवल एटीएम सहित कार्यालयीन कार्यों के लिए खुलेग।