Jain
ब्रेकिंग
प्लॉट खरीदते समय इन बातों का रखें ध्यान, बढ़ेगी सकारात्मक ऊर्जा और होगा भरपूर लाभ कर्ज से मुक्ति के लिए आजमाएं वास्तु शास्त्र से जुड़े उपाय भगवान कृष्ण से सम्बंधित 13 खास मंदिर 14 घंटे रेस्क्यू चलने के बावजूद 17 लोगों को नहीं खोज सके; घाटों पर गोताखोर तैनात जहां सीएम मनाएंगे अमृत महोत्सव, वहां कलेक्टर-आईजी ट्रैक्टर से पहुंचे भाद्रपद माह में जन्माष्टमी और गणेश उत्सव जैसे कई बड़े त्योहार घर में इस जगह पर रखें फेंगशुई ड्रैगन, सकारात्मक ऊर्जा का होगा संचार और बरसेगा धन इन लॉकेट को पहनने के जानें फायदे और नुकसान, धारण करने के जानें नियम सुबह से खिली है तेज धूप; जुड़ने लगे हैं गंगा के घाट अंबाला कैंट के PWD रेस्ट हाउस में सुनेंगे शिकायतें

उच्च कोलेस्ट्रोल कारण लक्षण व इलाज

उच्च कोलेस्ट्रोल कारण लक्षण व इलाज  High Cholesterol Karan Lakshan Control tips Ilaj in hindi

आजकल हमारी जीवनशैली इतनी ज्यादा बदल गई है, कि हम अपने खान पान पर ध्यान ही नहीं देते है, और शरीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा बढ़ जाती है| कोलेस्ट्रोल एक बहुत आम समस्या है और ये हमारे देश में बहुतो को अपनी चपेट में लिए हुए है|

कोलेस्ट्रोल क्या है ? (What is Cholesterol )

कोलेस्ट्रोल  एक तरह का वसा है जो हमारे शरीर के खून में होता है| सही ढंग से इसका उपयोग नहीं होता है और ये बीमारी का रूप ले लेता है| कोलेस्ट्रोल अपने साथ दूसरी बीमारियों को भी न्योता देता है|

कोलेस्ट्रोल बढ़ने का कारण (High Cholesterol Reasons)–

अनुवांशिकसिगरेट शराब का अधिक सेवन करनाउम्र के अनुसारशारीरिक कार्य जैसे व्यायाम चहलकदमी का आभाववसा युक्त भोजन का अधिक सेवनफ़ास्ट फ़ूड का अधिक सेवन

कोलेस्ट्रोल के लक्षण (High Cholesterol Lakshan / Symtoms)–

वैसे इसके लिए आपको कुछ खास लक्षण अपने शरीर में समझ नहीं आयेंगे, लेकिन इसके होने से दूसरी बीमारी होने के चांस बढ़ जाते है| कोलेस्ट्रोल बढ़ने से आपको

हाई ब्लडप्रेशरहार्ट अटैकडायबटिक

का खतरा बढ़ जाता है| डॉक्टर सलाह देते है कि 20 साल की उम्र के बाद से हमें हर पांच साल में कोलेस्ट्रोल की जांच कराना चाहिए| इसके लिए आपको अपना ब्लड टेस्ट करवाना होगा|

कोलेस्ट्रोल के प्रकार (Type of Cholesterol) –

क्रमांककोलेस्ट्रोल टाइपविवरण1.लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन(LDL)इसे बेड (खराब) कोलेस्ट्रोल भी कहते है. यह धमनियों में थक्का जमा देता है, जिससे वे कम लचीली हो जाती है. क्लॉट जमने से हार्टअटैक, स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है. इससे धमनी रोग भी हो सकता है.2.हाई डेंसिटी लिपोप्रोटीन (HDL)इसे गुड (अच्छा) कोलेस्ट्रोल भी

कहते है. ये धमनियों से लो कोलेस्ट्रोल को दूर करता है. विशेषज्ञ कहते है, हाई कोलेस्ट्रोल, धमनी में जाकर, लो कोलेस्ट्रोल को लीवर में भेज देता है, जहाँ से लीवर से होते हुए वो शरीर से बाहर निकल जाता है. अगर एक उचित मात्रा में हाई कोलेस्ट्रोल शरीर में जाता है, तो वह  हार्टअटैक एवं स्ट्रोक से भी बचाता है.

उच्च कोलेस्ट्रोल से होने वाली अन्य बीमारी –

हाई ब्लडप्रेशरशुगरकिडनी से जुडी परेशानीलीवर की परेशानीदिल से जुडी परेशानी

उच्च कोलेस्ट्रोल कम करने के इलाज (Cholesterol kam karne ke tarike)

हमें शरीर को चुस्त तंदुरुस्त बनाने के लिए जरूरत है कि हम उसका ख्याल रखे, कोलेस्ट्रोल को control में रखें उसे बढ़ने ना दें| इसे हम बिना दवाई के बस घर पर थोड़े से प्रयास के साथ कम कर सकते है|

धना –

एक रिसर्च में पता चला था कि धना कोलेस्ट्रोल को बहुत हद तक कम करने में सहायक है साथ ही ये शुगर भी कंट्रोल करता है|

एक कप पानी में 2 चम्मच धनिया पावडर को डाल कर उबालें|अब इसे छान लें, अब इसे में दिन में 1-2 बार पियें|इसके अलावा धना को ½ कप पानी में रात भर भिगोयें सुबह खाली पेट इसे पियें| कुछ दिन में फर्क समझ आएगा|

प्याज –

लाल प्याज कोलेस्ट्रोल कम करने में सहायक होती है| एक रिसर्च के अनुसार ये ख़राब कोलेस्ट्रोल को खत्म कर अच्छे कोलेस्ट्रोल को बढाता है|

एक चम्मच प्याज के रस में शहद डाल कर रोज पियें|इसके अलावा एक कप छाछ में एक प्याज को बारीक़ काट काट कर मिलाएं, इसमें नमक व काल मिर्च डाल कर रोज पियें|प्याज, लहसून व अदरक को अपने खाने में शामिल करें|

आवला –

आवला भी कोलेस्ट्रोल control में सहायक है, जो हमारे घर में आसानी से मिल जायेगा|

एक चम्मच आवला पाउडर को 1 गिलास गुनगुने पानी में डाल कर पियें|इसे आप रोज सुबह खली पेट पियें| बहुत जल्द फर्क समझ आएगा|

संतरे का जूस –

संतरा में विटामिन c होता है जो ख़राब कोलेस्ट्रोल को हटाने में बहुत मददगार है| रोज 2-3 ग्लास संतरे का जूस पिने से आपके शरीर में कोलेस्ट्रोल बहुत जल्दी कंट्रोल हो जायेगा| जूस नहीं तो आप संतरा आपनी डाइट में शामिल करें|

नारियल का तेल –

नारियल तेल शरीर में वसा को कम करता है जिससे कोलेस्ट्रोल नहीं बढ़ता| आर्गेनिक नारियल तेल को अपनी डाइट में शामिल करें, 1-2 चम्मच रोज खाएं|

ओट्स –

ओट्स हर तरह से बेहतर है हमारे शरीर के लिए, ये शरीर में कोलेस्ट्रोल को कम करता है, वजन कंट्रोल रहता है| मैंने आपको ओट्स से बनी रेसिपी भी शेयर की है, जिससे आप इसे विभिन्न तरीके से अपने खाने में शामिल कर सकते है|

मेवा –

मेवा को अपने खाने में शामिल करें, इसमें फाइबर अधिक होता है जो शरीर के लिए फायदेमंद है| 1 मुट्ठी मिले जुले मेवा खाने में शामिल करें, लेकिन ध्यान रखें इससे अधिक ना लें| इसमें प्राकतिक तेल होता है जो शरीर की बहुत सी जरूरतों को पूरा करता है|

कसरत (excercise) – रोज सुबह व्यायाम करें, दिन में 30 min चहलकदमी की आदत डालें|

बैगन –

खाने में बैगन की सब्जी शामिल कीजिये, ये आसानी उपलब्ध होती है और खाने में भी टेस्टी होती है| इससे भी कोलेस्ट्रोल कंट्रोल होता है|

बीन्स –

तरह तरह की बीन्स की सब्जी मिलती है इन्हें खाने में शामिल करें, ये पोष्टिक व कोलेस्ट्रोल control में सहायक है|

ये कुछ ऐसे तरीके है जिन्हें आप घर पर आसानी से इस्तेमाल कर सकते है और अपने कोलेस्ट्रोल को कंट्रोल कर सकते हो, इसके लिए आपको महंगी दवाइयां लेने की जरुरत नहीं है| लेकिन कभी परेशानी बढ़ जाये तो डॉक्टर से सलाह जरुर लें, समय समय पर कोलेस्ट्रोल की जांच करते रहें ताकि आपको पता चले की व कंट्रोल में है या नहीं| आपके पास भी को अन्य उपाय है तो हमारे साथ शेयर करें|

अन्य पढ़े: