Braz
ब्रेकिंग
ग्रीस में छुट्टियां मनाकर लौटे हार्दिक पांड्या फतेहाबाद में 2 शिकायतों के बाद सेंट्रल बैंक की जांच में खुलासा; हैड कैशियर पर FIR युवक की तलाश करने उतरे मछुआरे की मिली लाश 10 महीने बाद किसानों ने खोला मोर्चा, लखीमपुर बना ‘मिनी पंजाब’; केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी की बर्खास्तगी की मांग शहर में 10 घंटे रहेंगे शाह... सुरक्षा में तैनात रहेंगे 40 आईपीएस अफसर और 3000 जवान बिहार में मौसम विभाग का अलर्ट दवा के साथ न करें इन चीजों का सेवन सबरीमाला मंदिर का इतिहास भगवान श्रीकृष्ण की हर लीला भक्तों के मन को है लुभाती निजी क्षेत्र में देश का सबसे बड़ा 2600 बेड का है अस्पताल, 64 आपरेशन थियेटर, 81 गंभीर बीमारियों के स्पेशलिस्ट डॉक्टर करेंगे इलाज

दुशांबे में SCO बैठक से इतर अजित डोभाल और मोईद यूसुफ की नहीं होगी मुलाकात, पाकिस्तानी एनएसए ने दी जानकारी

इस्लामाबाद। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे में अगले हफ्ते होने वाली शंघाई सहयोग संगठन (SCO) की बैठक में भाग लेंगे। इस बैठक में पाकिस्तान समेत सभी सदस्य देशों के एनएसए मौजूद रहेंगे। इस बीच यह स्पष्ट हो गया है कि बैठक से इतर भारत व पाकिस्तान के एनएसए आपस में नहीं मिलेंगे।

पाकिस्तानी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद यूसुफ ने कहा कि उनके भारतीय समकक्ष अजीत डोभाल के साथ द्विपक्षीय बैठक की कोई संभावना नहीं है। डोभाल और यूसुफ सुरक्षा परिषद के सचिवों की 16वीं बैठक में शामिल होंगे। एससीओ के सदस्य देशों में भारत, रूस, चीन, पाकिस्तान, कजाखस्तान, किर्गिस्तान, ताजिकिस्तान व उज्बेकिस्तान शामिल हैं। आगामी बैठक की अध्यक्षता ताजिकिस्तान करेगा।

पिछले एससीओ की वर्चुअल बैठक में अजीत डोभाल ने पाकिस्तान की खिंचाई की थी

पिछले साल सितंबर में एससीओ के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की वर्चुअल बैठक में पाकिस्तान ने एजेंडे से अलग फर्जी नक्शा दिखाने की कोशिश की थी तो अजीत डोभाल ने उसकी जमकर खिंचाई की थी। पिछले कुछ महीनों में पाकिस्तान के राजनेताओं और सैन्य नेतृत्व ने भारत के खिलाफ अपने सुर नरम कर लिए हैं। सिंधु जल समेत अन्य मुद्दों पर फरवरी में हुई वार्ता के बाद भारत व पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम की घोषणा की थी।

दोनों देशों के विदेश मंत्रियों का हाल के महीनों में दो बार आमना-सामना हुआ

फरवरी में भारत और पाकिस्तान ने  नियंत्रण रेखा (LoC) पर सीजफायर के लिए सहमत की घोषणा की थी। इसके बाद सिंधु जल वार्ता, खेल वीजा समेत अन्य कदम उठाए गए थे। तनाव कम होने के संकेतों के बावजूद, भारतीय विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर और उनके पाकिस्तानी समकक्ष शाह महमूद कुरैशी हाल के महीनों में दो बार आमना-सामना हुआ, लेकिन दोनों की मुलाकात नहीं हुई। उन्होंने 30 मार्च को ताजिकिस्तान के दुशांबे, में ‘हार्ट ऑफ एशिया’ के नौवें मंत्रिस्तरीय सम्मेलन में भाग लिया। बाद में अप्रैल में, दोनों द्विपक्षीय यात्रा के लिए संयुक्त अरब अमीरात गए थे।

Braz