ब्रेकिंग
उदयपुर हत्याकांड के विरोध में बंद रहा बाजार, चप्पे-चप्पे पर तैनात रहे जवान यूपीएसएसएससी पीईटी नोटिफिकेशन जारी काशी विश्वनाथ धाम में अब बज सकेगी शहनाई, होंगी शादियां प्रदेश में मंत्री से लेकर संतरी तक भ्रष्टाचार में संलिप्त, भ्रष्टाचारियों की गिरफ्तारी के मुद्दे पर आप लड़ेगी निगम चुनाव अज्ञात युवकों ने कॉलेज कैंटीन में बैठे 3 छात्रों पर किया तेजधार हथियार से हमला; 1 की हालत गंभीर सिवनी कोर्ट परिसर में न्यायाधीशों समेत 27 ने किया रक्तदान, वितरित किए प्रमाण पत्र पड़ोस में रहने आयी छात्रा से जान पहचान बना डिजिटल रेप करने वाले आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार लोगों ने की आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग, टायर जलाकर की नारेबाजी 12 जुलाई को देवघर जाएंगे पीएम मोदी रिलायंस जिओ डीटीएच प्लान्स ऑफर और आवेदन की जानकारी | Reliance Jio DTH Setup Box Plan Offer Online Booking Information in hindi

सोना हुआ सस्ता, चांदी की कीमत में भारी गिरावट, जानें क्या रह गए हैं रेट

नई दिल्ली। सोने एवं चांदी की हाजिर कीमतों (Spot Price) में बुधवार को गिरावट देखने को मिली। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के मुताबिक राष्ट्रीय राजधानी में सोने के दाम में 149 रुपये प्रति 10 ग्राम की गिरावट दर्ज की गई। इससे दिल्ली में सोने का मूल्य 44,350 रुपये प्रति 10 ग्राम पर रह गया। इससे पिछले सत्र में सोने का भाव 44,499 रुपये प्रति 10 ग्राम पर रहा था। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के मुताबिक वैश्विक स्तर पर रात के सत्र में मूल्यवान धातुओं की कीमतों में कमी से राष्ट्रीय राजधानी में सोने एवं चांदी के दाम में यह उल्लेखनीय कमी दर्ज की गई।

हाजिर बाजार में चादी की कीमत (Silver Price in Spot Market)

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के मुताबिक चांदी की कीमत में 866 रुपये प्रति किलोग्राम की टूट देखने को मिली। इससे दिल्ली में चांदी की कीमत 64,607 रुपये प्रति किलोग्राम पर रह गई। इससे पिछले सत्र में यानी मंगलवार को चांदी की कीमत 65,473 रुपये प्रति किलोग्राम पर रही थी।

वैश्विक बाजार में सोने का दाम

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोने का दाम बुधवार को 1,729 डॉलर प्रति औंस पर ट्रेंड कर रहा था। इसी तरह चांदी की कीमत 25.12 डॉलर प्रति औंस पर सपाट रही।

एचडीएफसी सिक्योरिटीज में सीनियर एनालिस्ट (कमोडिटीज) तपन पटेल ने कहा, ”डॉलर के मूल्य में बढ़ोत्तरी के बावजूद महामारी को लेकर बढ़ती चिंताओं के बीच सोने के दाम में गिरावट एक स्तर पर सीमित रही।”